Environmental Biological Diversity PDF Book – पर्यावरण जीव विविधता

आज हम आप सभी के लिए जो पुस्तक की PDF वह ये हैं – Environmental Biological Diversity PDF Book – पर्यावरण जीव विविधता Share कर रहे हैं। दोस्तों अगर आप सभी सिविल सेवा की प्रारंभिक एवं मुख्या परीक्षा और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता पाना चाहते हैं तो आप सभी इस पुस्तक को download कर के एक बार अवश्य पढें यह पुस्तक प्रतियोगी परीक्षा की दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण हैं|

  • पर्यावरण अवं पारिस्तिथिकी (Environmental and Ecology)
  • पर्यावरण भूगोल (Environmental geography)
  • भारत की प्राकृतिक वनस्पति (Natural vegetation of India)
  • मृदा (Soil)
  • भारत की मृदाएं (Soils of India)
  • पर्यावरण विज्ञान (Environmental Science)
  • जीव जंतुओं मानव का पर्यावरण के साथ अनुकूलन (Animal animals adapt to the environment with humans)
  • कृषि विज्ञान (Agriculture Science)
  • वनों के संरक्षण की विधियां (Methods of conservation of forests)
  • ऊर्जा के स्त्रोत (Source of Energy)
  • टेक्नोलाजी (Technology)
  • बायोमास (Biomass)
  • जल संसाधन (Water Resources)
  • पशु संसाधन पर आधारित अर्थशास्त्र (Animal Resource Economics)

Environmental Biological Diversity PDF Book Download

Environment and biodiversity Notes Download

One Liner Question & Answer in Environmental Biological Diversity

  • भारत में उत्‍तर पूर्व के सघन वनों में रहता है – स्‍लो लोरिस (Slow Loris)
  • भारत में रेड पांडा प्राकृतिक रूप में पाया जाता है – उत्‍तर-पूर्वी भारत के उप-हिमालयी क्षेत्रों में
  • यह ज्ञान के विकास और संग्रहरण के लिए तथा व्‍यावहारिक अनुभव का बेहतर नीतियों हेतु पक्षसमर्थन करने के लिए क्षेत्र स्‍तर पर कार्य करता है – वेटलैंड्स इंटरनेशलन
  • राष्‍ट्रीय उद्यानों में आनुवंशिक विविधता का रख-रखाव किया जाता है – इन-सीटू संरक्षण द्वारा
  • TRAFFIC मिशन यह सुनिश्चित करता है कि वन्‍य पादपों और जंतुओं के व्‍यापार से खतरा न हो – प्रकृति के संरक्षण को
  • आनुवंशिक, जातिसमुदाय व पारितंत्र के स्‍तर पर विभिन्‍न प्रकार के कार्य करके पारिस्थितिक तंत्र का निर्वहन करती है – जैव-विविधता
  • संयुक्‍त राष्‍ट्र संघ द्वारा जैव-विविधता के लिए संकट हो सकते हैं – वैश्विक तापन, आवास का विखंडनविदेशी जाति का संक्रमण
  • जैव-विविधता के लिए बड़ा खतरा है – प्राकृतिक आवासों और वन‍स्‍पति का विनाश तथा झूम खेती
  • देश के पूर्वी और उत्‍तर-पूर्वी हिस्‍सों में यह खेती प्रचलित है जो कि खेती का अवैज्ञानिक तरीका है – झूम खेती
  • जैव-विविधता हॉटस्‍पॉट स्‍थलों में शामिल है –पूर्वी हिमालय (Eastern Himalayas)
  • भारत में जैव-विविधता के ‘ताप स्‍थल’ (हॉटस्‍पॉट) हैं – पूर्वी हिमालय व पश्चिमी घाट
  • जैव-विविधता हॉटस्‍पॉट केवल उष्‍णकटिबंधीय प्रदेशों में ही नहीं बल्कि पाए जाते हैं – उच्‍च अक्षांशीयप्रदेशों में भी
  • भारत में चार जैव-विविधता हॉटस्‍पॉट स्‍थ्‍ाल हैं। ये हॉटस्‍पॉट हैं – पूर्वी हिमालय, पश्चिमी घाटम्‍यांमार-भारत सीमा एवं सुंडालैण्‍ड
  • भारत में जैव-विविधता की दृष्टि से संतृप्‍त क्षेत्र है – पश्चिमी घाट
  • जैव-विविधता के संदर्भ में भारत में क्षेत्र ‘हॉटस्‍पॉट’ माना जाता है – अंडमान निकोबार द्वीप समूह
  • हॉटस्‍पॉट शब्‍दों का सर्वप्रथम प्रयोग वर्ष 1988 में किया – नार्मन मायर्स ने
  • जहां पर जातियों की पर्याप्‍तता तथा स्‍थानीय जातियों की अधिकता पाई जाती है लेकिन साथ ही इन जीव जातियों के अस्तित्‍व पर निरंतर संकट बना हुआ है। वह क्षेत्र कहलाता है – हॉटस्‍पॉट
  • सबसे लंबा जीवित वृक्ष है – सिकाया (Sequoia)
  • किसी प्रजाति को विलुप्‍त माना जा सकता है, जब वह अपने प्राकृतिक आवास में देखी नहीं गई है – 50 वर्ष से
  • चीता को भारत से विलुप्‍त घोषित किया गया था – वर्ष 1952 में
  • समुद्र तल से 3000-4500 मीटर की ऊंचाई पर पाया जाता है – हिम तेंदुआ
  • जम्‍मू एवं कश्‍मीर का राज्‍य पक्षी है – काली गर्दन वाला सारस
  • भारत में सर्वाधिक उड़न गिलहरी हैं – हिमालय के पर्वतीय क्षेत्रों में

You Also See This –

My Dear Friends -BANK, SSC, SSC 10+2, RAILWAY, POLICE, UP POLICE RAILWAY, RAILWAY GOURP D, RAILWAY POLICE,SSC,SSC CHSL,DATA ENTRY OPERATOR, LDC(LOWER DIVISION CLEARK), CPO SI, SSC CGL RPF, BSF, CISF, ASI, UPSSSC, CTET, TET, UPPSC, UPSC, IAS, PCS,Competitive Exam या अन्य किसी भी परीक्षा की तैयारी में लगे है तो हमारे website – Learnwithexpert.Com पर visit करते रहें , ताकि आपको हमारे द्वारा नये Update आपको प्राप्त होते रहे ।।

Disclaimer: Learnwithexpert.com केवल Educational Purpose शिक्षा क्षेत्र के लिए बनाई गई है, तथा इस पर उपलब्ध कुछ पुस्तक Notes,PDF Material,Books का मालिक नहीं है, न ही बनाया और न ही स्कैन किया है। हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material प्रदान करते हैं। यदि किसी भी तरह से यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो कृपया हमें Mail करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *