Indian Penal Code (IPC) History

Indian Penal Code (IPC) History  भारतीय दंड संहिता

Indian Penal Code (IPC) History  भारतीय दंड संहिता का पहला प्रारूप प्रथम कानून आयोग द्वारा तैयार किया गया था, जिसकी अध्यक्षता थॉमस बबिंगटन मैकाले ने की थी। यह इंग्लैंड के कानून के सरल संहिताकरण पर आधारित था, जबकि उसी समय नेपोलियन कोड और 1825 के लुइसियाना सिविल कोड से तत्वों को उधार लिया गया था।

Indian Penal Code (IPC) History 

वर्ष 1837 में गवर्नर-जनरल के समक्ष संहिता का पहला मसौदा पेश किया गया था, लेकिन बाद के संशोधनों में दो और दशक लग गए। संहिता का पूर्ण प्रारूपण 1850 में किया गया था और 1856 में विधान परिषद में प्रस्तुत किया गया था। 1857 के भारतीय विद्रोह के कारण इसे ब्रिटिश भारत की क़ानून पुस्तक में रखा गया था।

1 जनवरी, 1860 को बार्न्स पीकॉक द्वारा कई संशोधनों और संशोधनों के बाद कोड लागू हुआ, जो कलकत्ता उच्च न्यायालय के पहले मुख्य न्यायाधीश के रूप में काम करेंगे।

अंग्रेजों के आगमन से पहले, भारत में प्रचलित कानून, अधिकांश भाग के लिए, मुहम्मडन कानून था। अपने प्रशासन के पहले कुछ वर्षों के लिए, ईस्ट इंडिया कंपनी ने देश के आपराधिक कानून में हस्तक्षेप नहीं किया था और हालांकि 1772 में, वॉरेन हेस्टिंग्स के प्रशासन के दौरान, कंपनी ने पहली बार हस्तक्षेप किया, फिर 1862 तक, जब भारतीय दंड संहिता लागू हुई, तो मुहम्मडन कानून निस्संदेह राष्ट्रपति के कस्बों को छोड़कर आपराधिक कानून का आधार था। भारत में मुस्लिम आपराधिक कानून के प्रशासन की अवधि काफी अवधि तक बढ़ी और यहां तक ​​कि भारतीय कानून की शब्दावली के लिए कई शर्तों की आपूर्ति की।

अपने विभिन्न वर्गों में Indian Penal Code (IPC) विशिष्ट अपराधों को परिभाषित करता है और उनके लिए सजा प्रदान करता है। यह 23 अध्यायों में उप-विभाजित है जिसमें 511 खंड शामिल हैं।

हम आपके के लिए कुछ महत्वपूर्ण धाराओं का विवरण प्रस्तुत कर रहे है जो परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण है –

  • आईपीसी धारा 1 – कोड के संचालन का शीर्षक और सीमा
  • IPC धारा 2 – भारत के भीतर किए गए अपराधों की सजा
  • आईपीसी धारा 3 – भारत से परे अपराधों की सजा, लेकिन जो कानून द्वारा की जा सकती है
  • आईपीसी धारा 4 – अतिरिक्त-प्रादेशिक अपराधों के लिए संहिता का विस्तार
  • आईपीसी की धारा 5 – इस अधिनियम से प्रभावित नहीं होने वाले कुछ कानून
  • IPC धारा 6 – अपवाद के अधीन समझा जाने वाला कोड में परिभाषा
  • आईपीसी धारा 7 – एक बार अभिव्यक्ति की भावना
  • आईपीसी धारा 8 – लिंग
  • आईपीसी धारा 9 – संख्या
  • आईपीसी धारा 10 – “पुरुष” “महिला”
  • आईपीसी धारा 11 – “व्यक्ति”
  • आईपीसी धारा 12 – “सार्वजनिक”
  • आईपीसी धारा 13 – “रानी”
  • आईपीसी धारा 14 – “सरकार का सेवक”
  • आईपीसी धारा 15 – “ब्रिटिश भारत”
  • आईपीसी धारा 16 – “भारत सरकार”
  • आईपीसी धारा 17 – “सरकार”
  • आईपीसी धारा 18 – “भारत”
  • आईपीसी धारा 19 – “न्यायाधीश”
  • आईपीसी धारा 20 – “न्याय न्यायालय”
  • आईपीसी धारा 21 – “लोक सेवक”
  • आईपीसी धारा 22 – “चल संपत्ति”
  • आईपीसी धारा 23 – “गलत लाभ”
  • आईपीसी धारा 24 – “बेईमानी”
  • आईपीसी धारा 25 – “धोखाधड़ी”
  • आईपीसी धारा 26 – “विश्वास करने का कारण”
  • आईपीसी धारा 27 – पत्नी, क्लर्क या नौकर के कब्जे में संपत्ति
  • आईपीसी धारा 28 – “नकली”
  • आईपीसी धारा 29 – “दस्तावेज़”
  • आईपीसी धारा 30 – “मूल्यवान सुरक्षा”
  • IPC धारा 31 – “A होगा”
  • IPC धारा 32 – कृत्यों का उल्लेख करने वाले शब्दों में अवैध चूक शामिल हैं
  • आईपीसी धारा 33 – “अधिनियम”। “चूक”
  • IPC धारा 34 – सामान्य अभिप्राय को आगे बढ़ाने के लिए कई व्यक्तियों द्वारा किए गए कार्य –
  • IPC धारा 35 – जब इस तरह का कृत्य आपराधिक ज्ञान या इरादे के साथ किए जाने के कारण आपराधिक है
  • IPC धारा 36 – प्रभाव आंशिक रूप से कार्य द्वारा और आंशिक रूप से चूक से होता है
  • IPC धारा 37 – एक अपराध का गठन करते हुए कई कार्य करता है
  • IPC धारा 38 – आपराधिक अधिनियम में संबंधित व्यक्ति विभिन्न अपराधों के दोषी हो सकते हैं
  • आईपीसी धारा 39 – “स्वेच्छा से”
  • आईपीसी धारा 231 – सिक्के का कूटकरण
  • आईपीसी धारा 232 – भारतीय सिक्के का कूटकरण
  • आईपीसी धारा 233 – सिक्के के कूटकरण के लिए उपकरण बनाना या बेचना
  • आईपीसी धारा 234 – भारतीय सिक्के के कूटकरण के लिए उपकरण बनाना या बे
  • आईपीसी धारा 236 – भारत से बाहर सिक्के के कूटकरण का भारत में दुष्प्रेरण
  • आईपीसी धारा 237 – कूटकॄत सिक्के का आयात या निर्यात
  • आईपीसी धारा 238 – भारतीय सिक्के की कूटकॄतियों का आयात या निर्यात
  • आईपीसी धारा 239 – सिक्के का परिदान जिसका कूटकॄत होना कब्जे में आने के समय ज्ञात था
  • आईपीसी धारा 240 – उस भारतीय सिक्के का परिदान जिसका कूटकॄत होना कब्जे में आने के समय ज्ञात था
  • आईपीसी धारा 241 – किसी सिक्के का असली सिक्के के रूप में परिदान, जिसका परिदान करने वाला उस समय जब वह उसके कब्जे में पहली बार आया था, कूटकॄत होना नहीं जानता था
  • आईपीसी धारा 242 – कूटकॄत सिक्के पर ऐसे व्यक्ति का कब्जा जो उस समय उसका कूटकॄत होना जानता था जब वह उसके कब्जे में आया था
  • आईपीसी धारा 243 – भारतीय सिक्के पर ऐसे व्यक्ति का कब्जा जो उसका कूटकॄत होना उस समय जानता था जब वह उसके कब्जे में आया था
  • आईपीसी धारा 244 – टकसाल में नियोजित व्यक्ति द्वारा सिक्के को उस वजन या मिश्रण से भिन्न कारित किया जाना जो विधि द्वारा नियत है
  • आईपीसी धारा 245 – टकसाल से सिक्का बनाने का उपकरण विधिविरुद्ध रूप से लेना
  • आईपीसी धारा 246 – कपटपूर्वक या बेईमानी से सिक्के का वजन कम करना या मिश्रण परिवर्तित करना
  • आईपीसी धारा 247 – कपटपूर्वक या बेईमानी से भारतीय सिक्के का वजन कम करना या मिश्रण परिवर्तित करना
  • आईपीसी धारा 248 – इस आशय से किसी सिक्के का रूप परिवर्तित करना कि वह भिन्न प्रकार के सिक्के के रूप में चल जाए
  • आईपीसी धारा 249 – इस आशय से भारतीय सिक्के का रूप परिवर्तित करना कि वह भिन्न प्रकार के सिक्के के रूप में चल जाए
  • आईपीसी धारा 250 – ऐसे सिक्के का परिदान जो इस ज्ञान के साथ कब्जे में आया हो कि उसे परिवर्तित किया गया है
  • आईपीसी धारा 251 – भारतीय सिक्के का परिदान जो इस ज्ञान के साथ कब्जे में आया हो कि उसे परिवर्तित किया गया है
  • आईपीसी धारा 252 – ऐसे व्यक्ति द्वारा सिक्के पर कब्जा जो उसका परिवर्तित होना उस समय जानता था जब वह उसके कब्जे में आया
  • आईपीसी धारा 253 – ऐसे व्यक्ति द्वारा भारतीय सिक्के पर कब्जा जो उसका परिवर्तित होना उस समय जानता था जब वह उसके कब्जे में आया
  • आईपीसी धारा 254 – सिक्के का असली सिक्के के रूप में परिदान जिसका परिदान करने वाला उस समय जब वह उसके कब्जे में पहली बार आया था, परिवर्तित होना नहीं जानता था
  • आईपीसी धारा 255 – सरकारी स्टाम्प का कूटकरण
  • आईपीसी धारा 256 – सरकारी स्टाम्प के कूटकरण के लिए उपकरण या सामग्री कब्जे में रखना
  • आईपीसी धारा 257 – सरकारी स्टाम्प के कूटकरण के लिए उपकरण बनाना या बेचना
  • आईपीसी धारा 258 – कूटकॄत सरकारी स्टाम्प का विक्रय
  • आईपीसी धारा 259 – सरकारी कूटकॄत स्टाम्प को कब्जे में रखना
  • आईपीसी धारा 260 – किसी सरकारी स्टाम्प को, कूटकॄत जानते हुए उसे असली स्टाम्प के रूप में उपयोग में लाना
  • आईपीसी धारा 261 – इस आशय से कि सरकार को हानि कारित हो, उस पदार्थ पर से, जिस पर सरकारी स्टाम्प लगा हुआ है, लेख मिटाना या दस्तावेज से वह स्टाम्प हटाना जो उसके लिए उपयोग में लाया गया है
  • आईपीसी धारा 262 – ऐसे सरकारी स्टाम्प का उपयोग जिसके बारे में ज्ञात है कि उसका पहले उपयोग हो चुका है
  • आईपीसी धारा 263 – स्टाम्प के उपयोग किए जा चुकने के द्योतक चिन्ह का छीलकर मिटाना
  • आईपीसी धारा 263क – बनावटी स्टाम्पों का प्रतिषेघ
  • आईपीसी धारा 264 – तोलने के लिए खोटे उपकरणों का कपटपूर्वक उपयोग
  • आईपीसी धारा 265 – खोटे बाट या माप का कपटपूर्वक उपयोग
  • आईपीसी धारा 266 – खोटे बाट या माप को कब्जे में रखना
  • आईपीसी धारा 267 – खोटे बाट या माप का बनाना या बेचना
  • आईपीसी धारा 268 – लोक न्यूसेन्स
  • आईपीसी धारा 269 – उपेक्षापूर्ण कार्य जिससे जीवन के लिए संकटपूर्ण रोग का संक्रम फैलना संभाव्य हो
  • आईपीसी धारा 270 – परिद्वेषपूर्ण कार्य, जिससे जीवन के लिए संकटपूर्ण रोग का संक्रम फैलना संभाव्य हो
  • आईपीसी धारा 271 – करन्तीन के नियम की अवज्ञा
  • आईपीसी धारा 272 – विक्रय के लिए आशयित खाद्य या पेय वस्तु का अपमिश्रण।
  • आईपीसी धारा 273 – अपायकर खाद्य या पेय का विक्रय
  • आईपीसी धारा 274 – औषधियों का अपमिश्रण
  • आईपीसी धारा 275 – अपमिश्रित ओषधियों का विक्रय
  • आईपीसी धारा 276 – ओषधि का भिन्न औषधि या निर्मिति के तौर पर विक्रय

Indian Penal Code (IPC) History – भारतीय दंड संहिता PDF Book Download

Indian Penal Code (IPC) PDF Download

Some Important PDF Link for Competitive Exam

UP Police Computer Operator 2021
Work Energy Power & Gravitation PDF Book
Banking Awareness One Liner Question Answer
IB ACIO Syllabus & Exam Pattern 2021
KCC Kisan Credit Card – किसान क्रेडिट कार्ड
Monthly Current Affairs in December 2019 PDF Book
4500+ GK GS Important Question Book for All Competitive Exam
Rivers in India Interesting information for Competitive Exam
Tax System in India PDF Notes
Master in Current Affairs 2020 PDF Book
Mahendra’s Master in Current Affairs PDF Book
Latest Banking & Current Affairs PDF Book 2019
Weekly Current Affairs PDF in August 2019
Banking Current Affairs 2018 PDF Book
Speedy Current Affairs PDF Book

Some Important Reasoning Ability Book

Important Book For Mathematics

Important Book for English

My Dear Student -BANK, SSC, SSC 10+2, RAILWAY, POLICE, UP POLICE, RAILWAY GOURP D, RAILWAY POLICE, CGL, VDO, CPO SI, SSC CGL RPF, BSF, CISF, ASI, UPSSSC, CTET, TET, UPPSC, UPSC, IAS, PCS,CDS,CAPF,UGC-NET,CPO,Competitive Exam या अन्य किसी भी परीक्षा की तैयारी में लगे है तो हमारे website – Learnwithexpert.Com पर visit करते रहें , ताकि आपको हमारे द्वारा नये Update आपको प्राप्त होते रहे ।।

Disclaimer: Learnwithexpert.com केवल Educational Purpose शिक्षा क्षेत्र के लिए बनाई गई है, तथा इस पर उपलब्ध कुछ पुस्तक Notes,PDF Material,Books का मालिक नहीं है, न ही बनाया और न ही स्कैन किया है। हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material प्रदान करते हैं। यदि किसी भी तरह से यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो कृपया हमें learnwithexpert0@gmail.com पर Mail करें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *