Types of Verbs in Hindi – क्रिया कितने प्रकार की होती है हिन्दी में

(Types of Verbs in Hindi) THE VERB (क्रिया) – वह शब्द जो किसी व्यक्ति अथवा वस्तु के बारे में कुछ कहता है, उसे Verb (क्रिया) कहते हैं। Verb के बिना कोई भी वाक्य अधूरा होता है।
(A verb is a word that states something about a person or a thing.)

Example –
1 Boys are playing.
2. Start to write the answer
3. The baby cries.
4 I shall read the book.
5. Sachin wrote a letter.
6. The Prime Minister is arriving.
7 The sun is hot.
8. This shop is to let.
9. She will go to Kanpur
10. Do not play hockey.

Types of Verbs in Hindi - क्रिया कितने प्रकार की होती है हिन्दी में

POINTS TO REMEMBER

  • Verb के बिना वाक्य नहीं बनता।
  • Verb में एक या अधिक से अधिक चार शब्द हो सकते हैं।

KINDS OF VERB

Verb मुख्यत: चार प्रकार की होती है-
1. Transitive Verb (सकर्मक क्रिया)
2. Intransitive Verb (अकर्मक क्रिया)
3. Linking Verb (संयोजक क्रिया)
4. Auxiliary Verb (सहायक क्रिया)
(Auxiliary Verb को Helping Verb भी कहते हैं।)

निम्नलिखित वाक्यों को ध्यानपूर्वक पढ़िए-
1. Govind writes an essay.
2. Rahul went there.
3. Almighty is kind.
4. Kavita is writing a letter.

  • (i) पहले वाक्य में Govind-Subject (कर्ता) है, writes-Verb (क्रिया) है तथा essay-Object (कर्म) है। इस प्रकार की Verb को Transitive Verb कहते हैं।
  • दूसरे वाक्य में Rahul-Subject (कर्ता) है, went-Verb (क्रिया) है तथा there Adverb (क्रिया-विशेषण) है। इस वाक्य में Object (कर्म) नहीं है। इस प्रकार की Verb को Intransitive Verb कहते हैं।
  • तीसरे वाक्य में Almighty-Subject (कर्ता) है, is-Verb (क्रिया) है तथा kind Adjective (विशेषण) है। इस वाक्य में kind वाक्य की Verb का Complement (पूरक) है। इस प्रकार को Verb को Linking Verb कहते हैं।
  • चौथे वाक्य में Kavita-Subject (कर्ता) है, is writing-Verb (क्रिया) है। यह दो क्रियाओं is (सहायक क्रिया) तथा writing (मुख्य क्रिया) से मिलकर बनी है तथा letter-object (कर्म) है। यहाँ पर is एक auxiliary verb है।

Types of Verbs in Hindi – क्रिया कितने प्रकार की होती है –

TRANSITIVE VERB

Transitive Verb (सकर्मक क्रिया) वह क्रिया है जिसके साथ object (कर्म) होता है-
subject + verb + object

Example –

  • Rakhi cooked food. (राखी ने खाना बनाया।)
  • Amit sang a song. (अमित ने एक गाना गाया।)

(i) पहले वाक्य में cooked-verb तथा food-object है अत: cooked-Transitive Verb है।

(ii) दूसरे वाक्य में sang-verb तथा song-object है अत: sang-Transitive Verb है।

Object (कर्म) ज्ञात करना

यदि हम Verb (क्रिया) में ‘क्या’ तथा ‘किसे’ लगाकर प्रश्न करें तो उत्तर में जो Noun अथवा Pronoun प्राप्त होगा वह उस क्रिया का Object. (कर्म) होगा।

(i) प्रथम वाक्य में प्रश्न यह बनता है कि राखी ने क्या बनाया था ?
उत्तर-राखी ने खाना बनाया था।
इस प्रकार खाना (food) ‘cook’ क्रिया का Object है।
(ii) दूसरे वाक्य में प्रश्न यह बनता है कि अमित ने क्या गाया था ?
उत्तर-अमित ने गाना गाया था।
इस प्रकार गाना (song), क्रिया sang का Object है।

POINT TO REMEMBER
Transitive Verb के साथ अधिक से अधिक दो Object आ सकते हैं जिन्हें हम इस प्रकार कह सकते हैं-
subject + verb + main object + other object

INTRANSITIVE VERB

Intransitive Verb (अकर्मक क्रिया) वह क्रिया होती है जिसके साथ Object (कर्म) नहीं होता है-
subject + verb

Example –

  • Rakhi is coming.
  • Sachin was playing.
  • The Chief Minister has arrived.
  • Ankur will go.
  • It is raining.

उपर्युक्त वाक्यों में is coming, was playing, has arrived, will go तथा is raining Intransitive Verbs हैं। इन वाक्यों में Object नहीं है।

Difference between Transitive and Intransitive Verbs (सकर्मक तथा अकर्मक क्रिया में अन्तर)

यदि वाक्य में Verb का Object (कर्म) हो तो Verb (क्रिया) Transitive होगी तथा यदि Verb का Object (कर्म) नहीं है तो Verb (क्रिया) Intransitive होगी।

कुछ ऐसी Verbs हैं जो बिना रूप बदले भाव के अनुसार Transitive या Intransitive हो

TransitiveIntransitive
He moves the table.The earth moves.
The peon rang the bell.The bell rang.
He floated the boat.The boat floated
He flies kite every day.The boy's kite flies.
The driver stopped the train.The train stopped suddenly.
The horse drew the cart.He drew near me.
He walks his horse every day.The Horse walks.
He eats bread.We eat to live
The boy broke the glass.The glass broke.
The wind shakes the trees.The tree shakes with the wind.

जब Intransitive verb के साथ preposition जुड़ जाता है तो वह Transitive हो जाता है –

IntransitiveTransitive
They laughed.They laughed at her.
We talked.We talked about the affair.
He looked.He looked into the hole.

कुछ Intransitive verbs अपने अर्थ के समान अर्थ वाला object लेती हैं। ऐसे object को Cognate Object कहते हैं ।

POINTS TO REMEMBER

  • Types of Verbs in Hindi
  • Verb दो प्रकार की होती है- Intransitive और Transitive
  • Intransitive verb कोई object नहीं लेती। अतः इसको Passive voice नहीं बनती।
  • Transitive verb, object लेती है। कुछ Transitive verbs दो Objects लेती हैं। Indirect object को सामान्यत: Direct object से पहले रखते हैं।
  • Transitive verb Indirect object के साथ complement लेती है, परन्तु Direct object के साथ कोई complement नहीं आता।
  • Transitive verb के complement को Object complement कहते हैं और Intransitive verb के complement को Subject complement कहते हैं।
  • Intransitive verb के बाद में preposition आने पर वह Transitive verb बन जाती है।
  • कुल Transitive verb object के रूप में Reflexive pronoun लेती है, तब object और subject वही person होता है-
    He blamed himself for the defeat.
    I learned myself French.
  • Reflexive pronoun को प्राय: निम्नलिखित Transitive verbs के साथ प्रयोग किया जाता हैं –
    amuse, blame, cut, help, kill, hurt, prepare, introduce, repeat, restrict, satisfy, teach

LINKING VERB

Linking Verb (संयोजक क्रिया) वाक्य मे Subject (कर्ता) को उसके Complement(पूरक) से जोड़ती है। जैसे-
Sarita is wise
उपर्युक्त वाक्य में is क्रिया (Verb) है।
Sarita क्रिया का Subject (कर्ता) है।
Sarita a wise को is (Verb) जोड़ती है।

Verb of Incomplete Predication

Intransitive verb, जो पूर्ण भाव व्यक्त करती है, को Verb of Complete Predication कहते हैं।
Birds fly.
Snakes hiss.
Lions roar.
Men sleep.
The boy laughs.
The baby weeps.

बहुत-सी Intransitive verbs और कुछ Transitive verbs का Predicate पूर्ण भाव व्यक्त नहीं कर पाता जब तक कि उनके साथ कोई Noun, Adjective या अन्य क्रिया का कोई भाग नहीं आता, ऐसी क्रियाओं को Verbs of Incomplete Predication कहते हैं।

AUXILIARY VERB

Auxiliary Verb (सहायक क्रिया)-जो क्रिया मुख्य क्रिया को काल (Tense) बनाने में सहायता करती है उसे Auxiliary Verb कहते हैं; जैसे-
1. I was reciting the Ramayana.
मैं रामायण पढ़ रही थी।
2. Gita will go to America.
गीता अमेरिका जाएगी।
मुख्य सहायक क्रियाएँ इस प्रकार हैं-
has, have, had, is, are, am, was, were, can, could, may, might, do, does, did, shall, should, will, would, must, ought to आदि।

We are expert in government exam preparation such as RBI, SBI CLERK 2019, SBI SO, IBOS PO 2019, IBPS CLERK 2019, IBPS SO, RRB PO, RRB CLERK, RRB SO, RAILWAYS, SSC CGL 2019, SSC CHSL 2019 AND MANY MORE आज हम आप सभी के लिए  Types of Verbs in Hindi – क्रिया कितने प्रकार की होती है हिन्दी में  है ।

Add a Comment

Your email address will not be published.